Aadhaar Card: आधार कार्ड से जुड़ी इन बातो को जान ले, वरना बाद में पछतना पड़ सकता है।

आज के समय हर किसी के पास आधार कार्ड है। हाल ही में UIDAI (Unique Identification Authority of India) की तरफ से देशवासियों के लिए एक बड़ी अपडेट जारी की गयी है। जिसके तहत UIDAI की तरफ से आधार कार्ड से जुड़े नियमों में बदलाव की घोषणा जारी की गयी है। अगर आपने इन नए नियमों का पालन नहीं किया तो आपको काफी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। तो आइये जानते है UIDAI की तरफ से आधार कार्ड से जुड़े क्या नए नियम जारी किये गए है।

UIDAI की तरफ से देशवासियों के लिए सबसे बड़ी और पहली अपडेट यह है की आधार कार्ड से महिला के पिता और पति के रिश्ते की पहचान नहीं हो पाएगी यानी कि पहले महिला के आधार कार्ड में S/O (SON OF) या फिर W/O (WIFE OF) लिखा होता था। लेकिन अब महिला के आधार कार्ड में S/O और W/O की जगह C/O (CARE OF) लिखा होगा। इसका मतलब अगर महिला शादीसुधा है या फिर विधवा है। तो उसके आधार कार्ड में S/O और W/O की जगह C/O (CARE OF) लिखा होगा।

ये भी देखें: PM Awas Yojana Beneficiary List: सिर्फ इन लोगो को मिलेगा घर के लिए 1 लाख 20 हजार रुपये की राशि

UIDAI की तरफ से देशवासियों के लिए दूसरी सबसे बड़ी अपडेट यह है की अब व्यक्ति के फिंगरप्रिंट ना होने पर आँखों की पुतली से बनेगा आधार कार्ड। जैसे कि आप सब जानते हैं की बहुत से लोगों की किसी दुर्घटना होने के कारण हाथों की उंगलियां खराब जाती है या फिर किसी कारणवश उनकी उंगलियों के निशान खराब हो जाते है। तो अब इस स्थिति में फिंगरप्रिंट की जगह व्यक्ति के आंखों की पुतली की मदद से भी आधार कार्ड बनाए जा सकेगा।

UIDAI की तरफ से देशवासियों के लिए तीसरी सबसे बड़ी अपडेट यह है की आप अपने आधार कार्ड को 14 जनवरी 2024 तक अपडेट करवा ले अन्यथा आपको 14 जनवरी 2024 बाद काफी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है यानी की अगर आपके पास आधार कार्ड है और उसे 10 साल से अधिक हो चुके हैं। तो अब आपको 14 जनवरी 2024 तक अपने आधार कार्ड को अपडेट करवाना अनिवार्य है अन्यथा आपके आधार कार्ड रद्द कर दिया जाएगा।

UIDAI की तरफ से देशवासियों के लिए चौथी सबसे बड़ी अपडेट यह है की अब आप अपने आधार कार्ड में हुई गलती में सुधार केवल दो ही बार कर सकते हैं यानी कि अगर आपके आधार कार्ड में किसी भी प्रकार की कोई गलती है। तो आप उसमें केवल दो ही बार सुधार कर सकते हैं।